Thursday, 24 June, 2010

Cover Story Dainik Bhaskar : "RASRANG"


"आप सभी के लिए दैनिक भास्कर रविवारीय रसरंग में प्रकाशित कवर स्टोरी पोस्ट कर रहा हूँ ।
कृपया अपनी अमूल्य राय से मुझे अवगत कराये
मेरा ई मेल पता है : amitabhadubey@gmail.com
http://www.bhaskar.com/article/MAG-RAS-the-roads-of-development-1080464.html
शुभकामनाओं के साथ सदैव आपका ही
अमिताभ अरुण दुबे
(television journalist )
new delhi
+91 8103360233

Sunday, 9 May, 2010

माँ


धूप में छाया जैसी ,छाँव में नदिया जैसी
हाथ दुआओं वाले ,रोशन करे उजाले

प्रेम की मूरत ,दया की सूरत
ऐसी और कहाँ है ,जैसी मेरी माँ है ।
तन में मन के जैसी ,जीवन में बगिया जैसी
जिसके दर्शन में हो भगवन

ऐसी और कहाँ है ,जैसी मेरी माँ है
(नज्म : निदा फाजली )

आप सभी को मदर्स डे की शुभकामनायें !!!

Wednesday, 31 March, 2010

सिरहाने पर चाँद !!!


दिल से होके गुजरतें हैं रास्ते इश्क के ,
चाँद सूरज से भी जाते हैं आगे रास्ते इश्क के

इश्क में , ख्वाब में, ख्याल में
नामुमकिन भी मुमकिन होता है

चाँद तक रोज़ जाते हैं हम
चाँद से रोज़ आते हैं हम

प्यार कभी अक्चुअल, प्यार कभी वर्चुअल
प्यार कभी खुली किताब ,प्यार कभी पर्सनल

इश्क में ख्वाब में
ख्याल में चाँद सिरहाने पर होता है

Tuesday, 26 January, 2010

इक उम्मीद


गणतंत्र बने गुणतंत्र
बस यही हो
हर भारतीय का मंत्र



आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें

Tuesday, 12 January, 2010



उजाले हमारे बस में हैं ,
खुशियाँ हमारे हक में है .
आप सभी मस्त रहे खुश रहे
आप सभी को नव वर्ष व् नव दशक की हार्दिक शुभकामनायें !!!
यही अभिलाषा
शुभकामनाये
आपका
अमिताभ